Type Here to Get Search Results !

What are the best sad poems on life in Hindi?

What are the best sad poems on life in Hindi?

the best sad poems on life in Hindi
What are the best sad poems on life in Hindi?

What are the best sad poems on life in Hindi?


क्या आप जीवन पर the best sad poems on life की तलाश कर रहे हैं जिसमें दुख का स्पर्श हो? जीवन पर हिंदी में ये बेहतरीन दुखद कविताएँ आपके उदास जीवन में आपकी मदद करेंगी।

What are the best sad poems on life in Hindi?: Dear friends हम आपके लिए लेकर आए हैं the best sad poems on life - यह sad poems on life एक तरह  का love poems भी है जो हिंदी sad poems on life में भी रूपान्तरण किया गया है इस sad poems on life में आपको लगभाग सभी चिजे जो हमारी जिंदगी से जुरी है हुई है बताया गया है|

 


The best sad poems on life in Hindi

बदल रहा समय का पहिया बदल रही है राहें, ये एक  the best sad poems on life in Hindi है, जो एक बदलती Life के Sadness भारी दास्तां के ऊपर आधार करके लिखा गया है, आशा करता हूं ये the best sad poems on life आप सभी को अपने Life के हर एक बदलती पहलूओ से वाकिफ करवाएगा |

 



Badal rha samay ka pahiya badahl rahi hai rahein
Jin rahon me bachpan beeta
Aab najidkk Aaa rahi hai budhapein


Samay ki gati se chalti dharkan badal rahi hai saansein
In saanson se jab pyar barasti fir kaise pyar bhulayein


Hua janam fir ayi jawani sab samay ki hai baatein
In baaton me bhi jivan dhundo jane kab ruk jaye ye jivan chalti rahein

 


Pyar bhari is jivan me mil hum pyar sabhi ko batein

Pyar alawa kuch nahi yug me santosh yehi baat samjhaye

Aaj humare sath hai to kal hai humase dur
Koun jane kab kya ho jaye ho jaye sab asman-e noor

The best sad poems on life in Hindi



 

बदल रहा समय का पहिया बदल रही है राहें,
जिन राहों में बचपन बीता अब नजदीक आ रही बुढ़ापें |

समय की गति से चलती धरकन बदल रही है साँसें, इन साँसों से प्यार बरसती फिर कैसे प्यार भुलायें |

हुआ जन्म फिर आयी जवानी सब समय की है बातें, इन बातों में भी जीवन ढूँढो जाने रुक जाये कब जीवन चलती राहें |

प्यार भरी इस जीवन में मिल हम, प्यार सभी को बाटे,
प्यार अलावा कुछ नहीं युग में संतोष यही बात समझाए |

आज हमारे साथ है तो कल है हमसे दूर, कौन जाने कब क्या हो जाये हो जाये आसमान-ए-नूर

फरियादें न कर ऐ इन्सान दस्तूर-ए-खुदा भी क्या कबूल करेगा,
कबूल तो होगी तब जब जरूरत-ए-मंजूर वो खुदा करेगा |

Keep visiting for more Best Hindi poems on love, Motivational poem, the poem of all time, poem on life, Best poem for GF, best poem for BF, best Shayari for GF, best Shayari for BF, Quotes, only on TimesTak